पीओके में हिमस्खलन में मरने वालों की संख्या 152 हुई


मुजफ्फराबाद 17 जनवरी (वार्ता)। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में हिमस्खलन की चपेट में आई छह साल के एक बच्ची ने गुरुवार को एक अस्पताल में दम तोड़ दिया और इसके बाद यहां मरने वालों की संख्या 152 हो गई है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है।

मिलिट्री अस्पताल के प्रो. डॉ. अदनान मेहराज ने बताया कि तारिक शेख की बेटी सफिया को हिमस्खलन में फंसने और वहां से बाहर निकालने के बाद शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान अस्पताल लाया गया जिसके बाद उसे मिलिट्री अस्पताल लाया गया लेकिन दिमागी चोट के कारण उसने दम तोड़ दिया।

डॉ. मेहराज ने बच्ची के मां का हवाला देते हुए कहा कि उनके गांव सेरी के हिमस्खलन की चपेट में आने से यह बच्ची 20 से अधिक घंटे तक बर्फ में फंसी रही थी।

डाॅ. मेहराज ने कहा प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को अस्पताल का दौरा किया और इस दौरान उन्होंने विशेष रूप से साफिया की स्थिति के बारे में चिंता व्यक्त की थी।

साफिया के परिवार के सबसे बुजुर्ग सदस्य शेख खैरुल्लाह ने बताया कि गत सोमवार को उनके गांव सेरी के दो घर जबर्दस्त हिमस्खलन की जबर्दस्त चपेट में आ गए थे और इसमें दोनों परिवार के 18 लोगों की मौत हो गयी। साफिया भी इसी हिमस्खलन का शिकार हुई थी। मरने वालों में पांच महिलाएं, एक आदमी और 12 छोटे बच्चे और बच्चियां थी।